छंटनी का असर, दुनिया भर में Microsoft Teams और Outlook का सर्वर ठप

छंटनी का असर, दुनिया भर में Microsoft Teams और Outlook का सर्वर ठप

BUSINESS

 

नई दिल्‍ली। भारत समेत दुनिया भर में Microsoft Teams और Outlook सर्विस ठप हो गई हैं. कई यूजर्स कंपनी की सर्विस में आई खराबी की रिपोर्ट कर रहे हैं. कंपनी को नेटवर्किंग आउटेज का सामना करना पड़ा है. हाल ही में कंपनी ने छंटनी का भी ऐलान किया है.

अमेरिकी टेक फर्म Microsoft ने हाल ही में बड़े पैमाने पर छंटनी का ऐलान किया था. अब इसका असर दिखना शुरू हो गया है. बुधवार को कंपनी की Microsoft Teams और Microsoft Outlook की सेवाएं ठप हो गई. कंपनी का कहना है कि वो एक नेटिवर्किंग समस्या की जांच कर रही है जिसकी वजह से टीम्स और आउटलुक सहित कई सर्विस बंद हो गई. माइक्रोसॉफ्ट आउटेज की कई हजार रिपोर्ट की खबर सामने आई है. हालांकि, टेक फर्म ने कितने लोगों पर आउटेज का असर हुआ इसका खुलासा नहीं किया है.

आउटेज ट्रैकिंग वेबसाइट डाउनडिटेक्टर  (downdetector ) के अनुसार भारत में 3,900 से ज्यादा और जापान में 900 से ज्यादा घटनाएं रिपोर्ट की गई हैं. इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन और यूनाइटेड अरब एमीरेट्स में भी आउटेज की घटनाएं सामने आई हैं. डाउनडिटेक्टर साइट अपने प्लेटफॉर्म पर यूजर्स द्वारा सबमिट की गई शिकायतों समेत सोर्सेज से स्टेटस रिपोर्ट को जोड़कर आउटेज को ट्रैक करती है.

Microsoft ने कहा, हमने पकड़ ली है गड़बड़ी

माइक्रोसॉफ्ट ने एक ट्वीट में कहा, “हमने एक संभावित नेटवर्किंग इश्यू की पहचान की है और अगले ट्रबलशूटिंग स्टेप्स को निर्धारित करने लिए लिए टेलीमेट्री का रीव्यू कर रहे हैं .” माइक्रोसॉफ्ट की क्लाउड यूनिट Azure ने भी ट्वीट करते हुए नेटवर्किंग समस्या की जानकारी दी है. उसने कहा कि कुछ यूजर्स को उसके प्लेटफॉर्म पर समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है.

Microsoft Outage: पूरी दुनिया में सर्विस ठप

Azure का स्टेटस पेज दिखाता है कि अमेरिका, यूरोप, एशिया-पैसिफिक, मिडल-ईस्ट और अफ्रीका में इसकी सेवाओं पर असर पड़ा है. सिर्फ चीन में सरकार के लिए इसके प्लेटफॉर्म की सर्विस प्रभावित नहीं हुई हैं. Azure का आउटेज कई तरह की समस्याएं खड़ी कर सकता है, क्योंकि दुनिया भर की बड़ी-बड़ी कंपनियां इस प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करती हैं. कंपनी ने कहा कि माइक्रोसॉफ्ट वाइड एरिया नेटवर्क (WAN) से जुड़ी डिवाइसेस के साथ समस्या थी.

Microsoft: 10 हजार नौकरियां खत्म

कंपनी ने कहा कि उसने नेटवर्क में बदलाव को वापस ले लिया है, जिससे यह समस्या हो रही थी. इसे वापस लिए जाने के बाद कंपनी सर्विस की मॉनिटरिंग कर रही है. आपको बता दें कि पिछले दिनों ही माइक्रोसॉफ्ट ने 10,000 कर्मचारियों को नौकरी से निकालने का ऐलान किया था, जिसकी वजह से टेक सेक्टर में खलबली मच गई. इसके बाद गूगल ने भी 12,000 लोगों को नौकरी से निकाल दिया.

Dr. Bhanu Pratap Singh