अलग-अलग राज्यों में फंसे लाखों मजदूरों के लिए निशुल्क ट्रेन चलाए केंद्र सरकार: कांग्रेस

अलग-अलग राज्यों में फंसे लाखों मजदूरों के लिए निशुल्क ट्रेन चलाए केंद्र सरकार: कांग्रेस

POLITICS REGIONAL

Agra (Uttar Pradesh, India) । शहर कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष देवेन्द्र कुमार चिल्लू एडवोकेट व कांग्रेस जनों ने संयुक्त बयान में कहा है कि जिस प्रकार से विदेश में फंसे अमीरों,व देश के अमीरों के लिए वातानुकूलित ट्रेन पीएम ने चलाई हैं। उसी प्रकार से देश के विभिन्न राज्यों में फंसे लाखों मजदूरों, कामगारों के उनके घर वापसी के लिए निशुल्क ट्रेन चलाई जानी चाहिए।

आम जनता से कोई लेना देना नहीं

देवेन्द्र कुमार व कांग्रेसियों ने कहा है कि रोजाना विभिन्न राज्यों में फंसे मजदूरों के वीडियो उनकी दर्दनाक, असहनीय व्यथाओ के सामने आ रहे हैं। जिससे मालूम होता है कि ये लोग पैसे के अभाव में अपने छोटे छोटे बच्चों के साथ किस प्रकार से भुखमरी का जीवन यापन कर रहे हैं। लेकिन केंद्र की मोदी सरकार ना जाने देश के मजदूरों, कामगारों व उनके बच्चों की ओर कोई भी कार्यवाही नहीं कर रहे हैं। बीजेपी शासित राज्यों मप्र व उप्र की सरकारों ने जिस प्रकार से मजदूरों, कामगारों के कानूनी अधिकारों को तीन साल के लिए निलंबित किया है। उससे बीजेपी का मजदूर, गरीब विरोधी चेहरा उजागर हो गया है, बीजेपी को सिर्फ देश के चुनिंदा अपने उद्योगपति मित्रों की चिंता है, देश की आम जनता से कोई लेना देना नहीं है।



ये थे मौजूद

कांग्रेस जनों ने कहा है कि जिस प्रकार से लॉक डाउन के दौरान गुजरात के लोगों को उत्तराखंड व वाराणसी में फसने के कारण वातानुकूलित बसों से वापिस भेजा गया था, उसी प्रकार से देश के मजदूरों को भी मुफ्त वापसी के प्रबंध केंद्र की मोदी सरकार को करना चाहिए।बयान कर्ताओं में श्री चिल्लू के अलावा सर्वश्री रमाकांत सारस्वत, इब्राहिम ज़ैदी, हुकुम सिंह कुशवाह, ओम् हरि आनन्द, संतोष चौधरी, भीष्म पाल सिंह मुखिया, विनोद जरारी, चन्द्र मोहन जैन मोनू, प्रदीप जैन सीए, शाहिद खान, इदरीश मेवाती, शाने इलाही पहलवान आदि शामिल हैं।