NTA ने जारी किए जेईई मेन परीक्षा 2023 के लिए एडमिट कार्ड

NTA ने जारी किए जेईई मेन परीक्षा 2023 के लिए एडमिट कार्ड

Education/job

 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी NTA ने 24 जनवरी को निर्धारित संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) मेन परीक्षा 2023 के लिए एडमिट कार्ड शनिवार (21 जनवरी 2023) को जारी कर दिए। सत्र 1 के लिए पंजीकृत उम्मीदवार अपना प्रवेश पत्र आधिकारिक जेईई मेन वेबसाइट jeemain.nta.nic.in से डाउनलोड कर सकते हैं।

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की तरफ से जारी शेड्यूल के अनुसार जेईई मेन 2023 सत्र 1 परीक्षा 24, 25, 29, 30, 31 जनवरी 2023 को देश भर में आयोजित की जाएगी।

जेईई मेन परीक्षा 13 भाषाओं यानी अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मलयालम, मराठी, उड़िया, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और उर्दू में आयोजित की जाएगी जबकि जेईई-मेन 2023 का दूसरा सत्र अप्रैल 2023 में आयोजित किया जाएगा।

हालांकि एनटीए की ओर से बीते दिनों एग्जाम सिटी इंटिमेशन स्लिप जारी कर दी गई थी। उम्मीदवार यहां बताए गए स्टेप्स के माध्यम से एडमिट कार्ड को डाउनलोड कर सकते हैं।

इस तरह डाउनलोड कर सकेंगे एडमिट कार्ड

स्टेप 1: उम्मीदवार को सबसे पहले जेईई मेन की आधिकारिक वेबसाइट jeemain.nta.nic.in या http://www.nta.ac.in पर जाएं
स्टेप 2: फिर छात्र जेईई मेन एडमिट कार्ड के लिंक पर क्लिक करें
स्टेप 3: अब छात्र अपना जेईई मेन आवेदन संख्या और जन्म तिथि दर्ज करें
स्टेप 4: इसके बाद छात्र “सबमिट” बटन पर क्लिक करें
स्टेप 5: फिर छात्र को एडमिट कार्ड सिस्टम स्क्रीन पर दिखाई देगा
स्टेप 6: इसके बाद छात्र एडमिट कार्ड को डाउनलोड करें
स्टेप 7: अंत में विद्यार्थी अपने एडमिट कार्ड का प्रिंट आउट निकाल लें।

जेईई (मेन) 2023 सूचना बुलेटिन के अनुसार केंद्रीय सीट आवंटन बोर्ड के माध्यम से एनआईटी, आईआईटी और सीएफटी में बीई (BE)/बीटेक (BTech)/बीएर्क (BArch)/बीप्लानिंग (BPlanning) कार्यक्रमों में प्रवेश कम से कम 75 प्रतिशत की अतिरिक्त योग्यता के साथ अखिल भारतीय रैंक पर आधारित होगा।

बता दें कि इस साल जेईई मेन 2023 परीक्षा काफी विवादों से घिरी रही। जब एनटीए ने जेईई मेन 2023 परीक्षा की तारीखों की घोषणा की तो उम्मीदवारों ने परीक्षा की तारीखों को लेकर नाराजगी जताई। उन्होंने विरोध किया कि एनटीए को उन्हें तैयारी के लिए और अधिक समय देना चाहिए था और दावा किया कि इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा उनकी प्री-बोर्ड परीक्षा, व्यावहारिक परीक्षा, साक्षात्कार आदि से टकरा रही है। इस मामले की सुनवाई बंबई उच्च न्यायालय में भी हुई थी।