आगरा के आर्टिफिशियल ज्वैलरी कारोबारी पर आयकर सर्वे, टीडीएस शाखा ने पकड़ी चार करोड़ रुपये की कर चोरी

आगरा के आर्टिफिशियल ज्वैलरी कारोबारी पर आयकर सर्वे, टीडीएस शाखा ने पकड़ी चार करोड़ रुपये की कर चोरी

BUSINESS

 

टीडीएस शाखा ने चार करोड़ रुपये की कर चोरी पकड़ी
बेंगलुरू में है कारोबार, जयपुर हाउस में कारपोरेट ऑफिस

आगरा: आयकर विभाग की टीडीएस शाखा ने शहर के आर्टिफिशियल ज्वैलरी कारोबारी के यहां सर्वे करते हुए लगभग चार करोड़ रुपये की कर चोरी पकड़ी है। यह इंडी फैशन नामक यह कंपनी जिवा ब्रांड के नाम से उत्पाद तैयार करती है।

सर्वे को कानपुर से आए अधिकारियों के नेतृत्व में और स्थानीय आयकर अधिकारियों के सहयोग से अंजाम दिया गया। कारोबारी के आगरा और नोएडा कार्यालयों पर यह कार्रवाई की गई। उसके बेंगलुरू स्थित कार्यालय से भी दस्तावेज जुटाए गए।

जयपुर हाउस में आगरा विकास प्राधिकरण के सामने रहने वाले आर्टिफिशियल ज्वैलरी के कारोबारी राघवेंद्र के निवास पर आयकर विभाग की टीम ने सोमवार को सर्वे किया। सर्वे दोपहर 12 बजे से रात डेढ़ बजे तक चला। बताया गया है कि जयपुर हाउस स्थित निवास पर शुरुआत में कारोबारी के माता-पिता ही मिले। बाद में पुत्र से सम्पर्क किया गया।

विभागीय सूत्रों ने बताया कि कारोबारी का अधिकांश कारोबार बेंगलुरू में है। कारपोरेट कार्यालय का पता जयपुर हाउस आगरा दे रखा है। इसके अलावा जीएसटी पंजीकरण नोएडा में है। पता चला है कि कारोबारी ने बिना टीडीएस काटे ही तीस से चालीस करोड़ का भुगतान कर दिया था।

कानपुर के आयकर आयुक्त राकेश कुमार गुप्ता के नेतृत्व में हुई इस कार्रवाई में अपर आयुक्त सतीश रजौरे, उपायुक्त अंकित तिवारी, आयकर अधिकारी सुनील सक्सेना, सुनील द्विवेदी, अजय पाल, आयकर निरीक्षक अजीत मिश्रा व यतेंद्र कुमार शामिल रहे।

Dr. Bhanu Pratap Singh

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *