Agra University EC में अलीगढ़ को 100 करोड़ देने का विरोध, कई फैसले

Agra University EC में अलीगढ़ को 100 करोड़ देने का विरोध, कई फैसले

NATIONAL REGIONAL

Agra (Uttar Pradesh, India)। डॉक्टर भीमराव आंबेडकर विश्वविद्यालय आगरा के खंदारी परिसर में विश्वविद्यालय कार्यपरिषद की बैठक आहूत की गई। अध्यक्षता कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल ने की। बैठक में नवागत कुलसचिव अंजनी कुमार मिश्रा तथा नवागत सदस्यों का स्वागत किया गया। कार्यपरिषद में अलीगढ़ के राजा महेंद्र प्रताप सिंह राज्य विश्वविद्यालय को सौ करोड़ रुपए देने का प्रस्ताव कार्यपरिषद के सदस्यों प्रोफेसर मोहम्मद अरशद, प्रोफेसर पीके सिंह, डॉक्टर निर्मला यादव ने विरोध किया। फिर भी कुछ सुधारों के साथ प्रस्ताव पारित कर दिया गया।

बीएड मामले में कमेटी
विश्वविद्यालय में सत्र 2004 -2005 के बीएड मामले में अभ्यर्थियों को दिए गए समय में से करीबन 800 लोगों ने विश्वविद्यालय को पत्र लिखे थे। अपनी मार्कशीट को सही बताया था। इनके लिए एक कमेटी का गठन किया जाएगा, जिसमें विश्वविद्यालय के 4 डीन रहेंगे। एक सदस्य एसआईटी से भी मांगा जाएगा।

टीचर वेलफेयर फंड में डेढ़ करोड़ रुपए वापस
विश्वविद्यालय के खंदारी परिसर स्थित चाणक्य भवन के निर्माण को पूर्व कुलपति द्वारा टीचर वेलफेयर फंड से डेढ़ करोड़ रुपए दिए गए थे, जिनको आज कमेटी ने टीचर वेलफेयर फंड में वापस कर दिया है। बैठक में कुलपति प्रोफेसर अशोक मित्तल, कुलसचिव अंजनी कुमार मिश्रा, वित्त अधिकारी एके सिंह, परीक्षा नियंत्रक डॉ. राजीव कुमार, प्रो. मोहम्मद अरशद, प्रो पीके सिंह, डॉक्टर हेमा पाठक उपस्थित रहे। कुछ सदस्य ऑनलाइन उपस्थित रहे, जिनमें प्रोफेसर रोशन लाल, प्रोफेसर रामगोपाल, डॉ. निर्मला यादव, डॉ प्रीति जौहरी, डॉ शशि बाला यादव, डॉक्टर जगदीश आदि हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *