Agra- Lucknow Express Way पर दर्दनाक हादसा, पति—पत्नी समेत पांच की मौत

Agra- Lucknow Express Way पर दर्दनाक हादसा, पति—पत्नी समेत पांच की मौत

Crime NATIONAL REGIONAL

दिल्ली से इलाहाबाद जा रहा था परिवार, कार खड़े ट्रक में घुसी, अत्यधिक गति बनी दुर्घटना का कारण

Firozabad (Uttar Pradesh, India) आगरा—लखनऊ एक्सप्रेस वे पर शनिवार सुबह को दर्दनाक हादसा हो गया। पति—पत्नी समेत पांच लोगों की मौत हो गई। एक गंभीर रूप से घायल हो गया। शवों को गाड़ी काटकर बाहर निकाला गया। कार की स्पीड इतनी अधिक थी कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आई रिपोर्ट के अनुसार 30 किलोमीटर की दूरी को मात्र 10 मिनट में तय किया गया था। कार सड़क किनारे खड़े ट्रक से टकराई थी। उसके बाद कार के परखच्चे उड़ गए।

इलाहाबाद का है परिवार

इलाहाबाद के थाना मौजा क्षेत्र अंतर्गत गांव गुसोरा निवासी 45 वर्षीय रविनेश पुत्र अखिलेश पांडे की 40 वर्षीय पत्नी रूबी पांडे की तबियत खराब थी। करीब एक एक सप्ताह पूर्व रविनेश पत्नी और चार साल के बेटे लक्ष पांडे के साथ अपनी कार से दिल्ली इलाज कराने गए थे। दिल्ली में वह अपनी साली प्रियंका पांडे पत्नी सतेन्द्र के यहां रुके थे। वापस आते समय साली अपने दो बच्चे 17 वर्षीय बेटे केशव पांडे और नौ वर्षीय बेटी नंदनी पांडे के साथ गांव घूमने के लिए उनके साथ चली आईं। शनिवार सुबह करीब साढ़े पांच बजे जैसे ही उनकी कार थाना नसीरपुर क्षेत्र के टोल के समीप पहुंची वैसे ही आगे खड़े ट्रक से उनकी कार टकरा गई।

कार काटकर निकाले गए शव

हादसा इतना भीषण था कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे के बाद साली प्रियंका पांडे कार की खिड़की से उछलकर सड़क पर जा गिरीं जबकि बाकी लोग कार के अंदर ही फंस गए। सूचना पर पहुंची यूपीडा और टोल कर्मचारियों ने पुलिस को हादसे की सूचना दी। एसएसपी सचिन्द्र पटेल, सीओ ईरज रजा सहित नसीरपुर पुलिस मौके पर पहुंची। शवों को गाड़ी काटकर बाहर निकाला गया जबकि गंभीर रूप से घायल दो लोगों को शिकोहाबाद अस्पताल भेजा गया। जहां एक की और मौत हो गई। साली को गंभीर हालत में फिरोजाबाद जिला अस्पताल भिजवा दिया।

ट्रक की तलाश की जा रही

एसएसपी ने बताया कि हादसे में रविनेश, रूबी, लक्ष और केशव की मौके पर ही मौत हो गई थी, जबकि नंदनी की अस्पताल में मौत हो गई। प्रियंका को गंभीर हालत में फिरोजाबाद भर्ती कराया गया है। हादसा ट्रक में पीछे से कार घुसने की वजह से हुआ है। मौके पर ट्रक की नंबर प्लेट मिली है। जिसके आधार पर ट्रक की तलाश की जा रही है।

30 किलोमीटर की दूरी 10 मिनट में तय की

उन्होंने बताया कि कार की स्पीड काफी अधिक रही होगी क्योंकि इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि फतेहाबाद टोलसे रसूलपुर टोल की दूरी करीब 30 किलोमीटर है। वहां के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर कार मात्र 10 मिनट के अंदर इस टोल तक पहुंची। इससे प्रतीत होता है कि कार ने 10 मिनट में 30 किलोमीटर की दूरी तय की है। संभवत: हवा का झोंका आने से झपकी लगी होगी और यह हादसा हो गया। शवों को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *