कोरोना के कारण लॉकडाउन जिले में झगड़ा, प्रधान पति की हत्या, मृतक के खिलाफ FIR

कोरोना के कारण लॉकडाउन जिले में झगड़ा, प्रधान पति की हत्या, मृतक के खिलाफ FIR

Crime HEALTH NATIONAL REGIONAL

Agra (Uttar Pradesh, India)। थाना मलपुरा क्षेत्र के गांव खेड़ा भगौर में मंगलवार को प्रधानपति सतीश के भतीजे आकाश ने दबंग युवकों से अपने खेत में बॉलीवाल खेलने से मना किया था। इस पर दबंगों ने प्रधानपति के भतीजे आकाश के साथ मारपीट कर दी। जिससे दोनो पक्षों में झगड़ा हो गया। मामले में पुलिस ने दोनों की तरफ से एनसीआर दर्ज कर ली।

दोबारा हुआ झगड़ा
मंगलवार शाम 6 बजे दबंग जयंती और विज्जो की प्रधानपति सतीश कहासुनी हो गई। दोनों पक्ष के लोग आमने-सामने आ गए। दोनों ओर से पथराव होना शुरू हो गया। इससे मौके पर भगदड़ मच गई। लाठी-डंडे चलने लगे। कई राउड फायरिंग भी हुई। इससे गांव में दहशत फैल गई। ग्रामीण अपने घरों में कैद हो गए।

प्रधानपति सतीश हुआ जख्मी
झगड़े में प्रधानपति सतीश गंभीर रूप से जख्मी हो गया। इसके अलावा कई लोगों को चोट आई। इस पर परिवारीजन सतीश को लेकर इलाज के लिए आगरा ले गए। ग्रामीणों ने इसकी सूचना कंट्रोल रूम पर दी। सूचना पर पुलिस पहुंच गई। जिस अस्पताल में सतीश का इलाज चल रहा था वहां पर दो पुलिसकर्मी पहुंच गए।

प्रधानपति की हुई मौत
देर रात को इलाज के दौरान प्रधानपति सतीश की मौत हो गई। इससे परिवार में कोहराम मच गया। गांव में शोक की लहर दौड़ गई। वहीं गांव में तनाव फैल गया। बुधवार को पोस्टमार्टम के बाद सतीश का शव गांव में पहुंच गया। इसकी खबर लगते ही प्रधान के घर पर सैकड़ों लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। हर किसी की आंख नम थी। परिवारीजनों ने सतीश का अंतिम संस्कार कर दिया।

पुलिस ने मृतक को बनाया आरोपी
इस मामले में मलपुरा पुलिस ने दूसरे पक्ष की तरफ से भी मुकदमा दर्ज कर लिया। पुलिस ने जयन्ती प्रसाद की तहरीर पर मृतक सतीश, रमेश, भूरी, मुकेश, कलुआ, शिवा, भूरा, पप्पू, गीता, राजकुमार, मुन्ना, मुरारी के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307 में मुकदमा दर्ज कर लिया। इससे प्रधान पक्ष के लोगों में पुलिस के खिलाफ रोष है। उन्होंने पुलिस की कार्यप्राणली पर सवाल खड़े किए हैं।

ये बोले पुलिस अधिकारी
पुलिस क्षेत्राधिकारी अछनेरा बीएस वीर कुमार ने बताया है कि मृतक सतीश के भाई रमेश की तहरीर पर जयंती, बिज्जो, राजबहादुर, राधेश्याम, दीवान, जयपाल, मैन सिंह, शिशुपाल, ब्रह्मलाल, तेजवीर, हरिभान, हेमंत, भूरा, अनिल, गब्बर, लोकेश, ओमवीर, राधाकृष्ण, लल्ला, राहुल, नेत्रपाल, जितेन्द्र, आकाश समेत अन्य के विरुद्ध आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302 में मुकदमा दर्ज हुआ है। पुलिस ने जयंती और बिज्जो को पकड़कर जेल भेज दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *