Big News यूपी पुलिस के सीओ समेत आठ पुलिस वालों की हत्या

Big News यूपी पुलिस के सीओ समेत आठ पुलिस वालों की हत्या

Crime REGIONAL

बदमाशों की इस फायरिंग में सीओ, एसओ, चौकी इंचार्ज और पांच सिपाही शहीद, हथियार भी लूट गए

हत्यारोपी को पकड़ने गई थी पुलिस, गांव वालों ने जेसीबी लगाकर रास्ता रोका, अंधाधुंध फायरिंग

Kanpur (Uttar pradesh, India) उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में उत्तर प्रदेश पुलिस के आठ जवानों की हत्या कर दी गई है। इनमें पुलिस उपाधीक्षक (सीओ) भी शामिल हैं। छह पुलिस वाले बेहद गंभीर हैं। जिले के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची यूपी पुलिस की टीम पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग झोंक दी। इस फायरिंग में सीओ बिल्हौर (डीएसपी) समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हुए हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है।

हथियार भी लूट ले गए

पुलिस ने बताया कि विकास दुबे नाम के बदमाश और उसके साथियों ने घर की छतों से दबिस देने गई पुलिस टीम पर गोलियां बरसाईं। जानलेवा हमले के बाद पुलिस के असलहे भी लूट ले गए। यह वही विकास दुबे है, जिसने थाने में घुसकर राज्यमंत्री की हत्या की थी।

बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां झोंकी

 इस घटना की खबर लगते ही एडीजी कानपुर जोन, आईजी रेंज, एसएसपी कानपुर तमाम आलाधिकारी भारी पुलिस बल मौके पहुंचकर जांच पड़ताल में जुट गए हैं। वहीं दूसरी तरफ डीजीपी एचसी अवस्थी, एडीजी एलओ प्रशांत कुमार भी मौके पर पहुंचे हैं। इस घटना पर डीजीपी ने कहा है कि हत्या के प्रयास मामले में दबिश देने गई टीम पर पहले से ही घात लगाए बदमाशों ने ताबड़तोड़ गोलियां झोंक दी। जिससे हमारी पुलिस टीम को संभलने का मौका नहीं मिल पाया। बदमाशों की इस फायरिंग में एक सीओ, एक एसओ, एक चौकी इंचार्ज, 5 सिपाही शहीद हुए हैं। जबकि 4 सिपाही घायल हैं, जिनमें एक गंभीर है।

यूपी एसटीएफ को लगाया

सभी घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। डीजीपी के मुताबिक इस वारदात के पीछे कुल 7 से 8 के करीब आरोपी हो सकते हैं। मुख्य आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए पड़ोसी जिलों की पुलिस को भी लगाया गया है। आरोपी विकास दुबे की गिरफ्तारी में यूपी एसटीएफ को भी लगाया गया है। साथ ही लखनऊ से एक फॉरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी कानपुर पहुंची है। वहीं कानपुर देहात में एनकाउंटर के बाद जिले की सारी सीमाएं सील कर दी गई हैं। पूरे गांव को छावनी में तब्दील करके पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है।

शहीद पुलिसकर्मी

1- देवेंद्र कुमार मिश्र, सीओ बिल्हौर

2- महेश यादव, एसओ शिवराजपुर

3- अनूप कुमार, चौकी इंचार्ज मंधना

4- नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर

5- सुल्तान सिंह, कांस्टेबल थाना चौबेपुर

6- राहुल, कांस्टेबल बिठूर

7- जितेंद्र, कांस्टेबल बिठूर

8- बबलू, कांस्टेबल बिठूर

हत्यारोपी पर 60 मुकदमे,  राज्यमंत्री की हत्या की थी

आपको बता दें कि हिस्ट्रीशीटर शातिर अपराधी विकास दुबे के ऊपर 60 मुकदमे दर्ज हैं। कानपुर के राहुल तिवारी नाम के शख्स ने 307 का एक मुकदमा विकास दुबे के ऊपर दर्ज कराया है, इसी मामले में दबिश देने के लिए पुलिस टीम चौबेपुर थाना इलाके में बिकरु गांव गई थी। जहां पुलिस को रोकने के लिए इन्होंने पहले से ही जेसीबी लगाकर रास्ता रोक रखा था। पुलिस टीम के पहुंचते ही बदमाशों ने छतों से पुलिस टीम पर फायरिंग शुरू कर दी। जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए है।

सीएम योगी ने जताई संवेदना

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में शहीद हुए 8 पुलिसकर्मियों को अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। पुलिसकार्मियों की शहादत को नमन करते हुए मुख्यमंत्री ने इनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने डीजीपी को इस घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करने और तत्काल मौके की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *