भारत-चीनी सैनिक संघर्ष के बाद शिवपाल यादव का बड़ा बयान, कार्यकर्ताओं को खास निर्देश

भारत-चीनी सैनिक संघर्ष के बाद शिवपाल यादव का बड़ा बयान, कार्यकर्ताओं को खास निर्देश

INTERNATIONAL NATIONAL POLITICS REGIONAL

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को स्वदेशी अपनाने का आग्रह, डीएम को ज्ञापन दें

Lucknow (Uttar Pradesh, India) प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव का कहना है कि लद्दाख की गलवान घाटी में 20 भारतीय जवानों की शहादत के बाद अब समय आ गया है कि चीन को मुंहतोड़ जवाब मिले। चीन को ना केवल सामरिक बल्कि आर्थिक मोर्चे पर भी माकूल जवाब दिया जाए।

मुनाफे का प्रयोग हमारे खिलाफ कर रहा चीन

एक बयान में उन्होंने कहा कि चीन की कायराना हरकत के प्रति देश में बहुत आक्रोश है। धोखा देना चीन की पुरानी आदत है। चीन की चुनौती व खतरे को लेकर मुलायम सिंह यादव जी ने हमेशा चेताया है। नेता जी का मानना था कि देश को वास्तविक खतरा चीन से है, लेकिन सभी सरकारें चीन के प्रति उदासीन रही हैं। एक तरफ चीन हमारी सीमाओं पर घुसपैठ कर रहा है और भारत के दुश्मनों को प्रश्रय दे रहा है, दूसरी तरफ अपना सस्ता उत्पाद हमें बेचकर न सिर्फ भारतीय औद्योगिक प्रतिष्ठानों व उत्पादों को नुकसान पहुंचा रहा है बल्कि अपनी रक्षा पंक्ति को मजबूत कर वह इस मुनाफे का प्रयोग सीमा पर हमारे ही जवानों के खिलाफ कर रहा है।

स्वदेशी को अपनाएं

चीन के लिए भारत सबसे बड़ा बाज़ार है और भारत चीन का सबसे बड़ा व्यापारिक साझेदार है। इसलिए हमें स्वदेशी को अधिक से अधिक बढ़ावा देकर चीन निर्मित उत्पादों का बहिष्कार करना होगा। इससे चीन को आर्थिक नुकसान होगा और हमारा देश आत्मनिर्भर बनेगा। इसी क्रम में हम सरकार से यह मांग करते हैं कि चीनी उत्पादों के आयात पर प्रतिबंध लगे, सरकार द्वारा स्वदेशी कंपनियों को प्रोत्साहन मिले और साथ ही देश में निर्माण कार्य में लगी चाइनीज कंपनियों का ठेका रद्द हो। उन्होंने अपने सभी साथियों का आह्वान किया है कि चीनी उत्पाद के बहिष्कार को लेकर जन जागरण में अपना योगदान दें। इस विषय पर स्वास्थ्य दिशा- निर्देशों का पालन करते हुए प्रत्येक जनपद में जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपे।