जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का शुभारम्भ

जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का शुभारम्भ

HEALTH REGIONAL

Hathras (Uttar Pradesh, India) । शनिवार को जिला अस्पताल परिसर में जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा का शुभारम्भ किया गया। पखवाड़े की शुरुआत राहत आयुक्त उत्तर प्रदेश शासन संजय गोयल, विशेष सचिव उत्तर प्रदेश शासन अखिलेश मिश्रा और जिलाधिकारी हाथरस प्रवीण कुमार, सीएमओ डॉ बृजेश राठौर द्वारा किया गया। साथ उच्च अधिकारियों द्वारा जिला चिकित्सालय का निरीक्षण भी किया गया।

11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत साल 1989 में संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद द्वारा हुई थी। उस समय विश्व की जनसंख्या लगभग पांच अरब  हुई थी , तब से प्रत्येक वर्ष 11 जुलाई को यह दिवस मनाया जाता है। इस दिन बढ़ती जनसंख्या के दुष्परिणामों पर प्रकाश डाला जाता है और साथ ही लोगों को जनसंख्या स्थिरता के प्रति जागरूक किया जाता है।

ब्लॉक स्तर पर भी सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों पर विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जा रहा है। पूरे पखवाड़े के दौरान परिवार नियोजन को अपनाने के लिए लोगों को जागरूक किया जाता रहेगा। आशा कार्यकर्ता  कोविड-19 से संबंधित सर्विलेंस तथा संचारी रोग अभियान के तहत चलने वाले दस्तक अभियान मैं घर घर जाकर परिवार नियोजन संबंधित साधनों को लक्षित दंपतियों को उपलब्ध कराएंगी  तथा कम उम्र में शादी न  करने, विवाह के बाद कम से कम 2 साल तक बच्चे न  पैदा करने, दो बच्चों के बीच कम से कम तीन  साल का अंतर रखने तथा विभिन्न परिवार नियोजन के साधनों के बारे में लोगों को जागरूक करेंगी। जिला तथा ब्लॉक स्तर पर लोगों को परिवार नियोजन के बारे में परामर्श भी दिए जा रहे हैं। वहां महिला तथा पुरुष नसबंदी के लिए अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

राहत आयुक्त ने बताया कि लोगों को पेम्पलेट्स, काउंसलिंग आदि प्रकार से जनसंख्या नियंत्रण (परिवार नियोजन) के लिए जागरूक किया जाएगा। आशा व अन्य हेल्थ वर्कर्स द्वारा इसका प्रचार-प्रसार किया जाएगा।    

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *