कोरोना को लेकर डॉ. बीएस बघेल की ये चिन्ता वाजिब है, पढ़िए क्या कहते हैं

कोरोना को लेकर डॉ. बीएस बघेल की ये चिन्ता वाजिब है, पढ़िए क्या कहते हैं

HEALTH NATIONAL REGIONAL

Agra (Uttar Pradesh, India)। वैश्विक महामारी कोरोना के कारण आम आदमी के साथ-साथ पूरा मेडिकल समुदाय स्तब्ध है। विद्वान डॉक्टर जो कि मरीज की चाल व शरीर पर एक नजर डालें तो डायग्नोसिस के बहुत करीब पहुंच जाते हैं, वह भी कोरोना के डर से ‘स्टे होम- स्टे सेफ- स्टे हैप्पी’ की नियमावली का अक्षरशः पालन कर रहे हैं। आम आदमी को कितना नियम पालन करना है, इसकी गंभीरता उसे स्वयं समझनी होगी अन्यथा भयावहता बढ़ेगी और स्थिति असामान्य रूप से काबू से बाहर हो जाएगी।

मरीजों पर आर्थिक बोझ बढ़ेगा
इन सबके बीच संपूर्ण स्टाफ के साथ मैदान में कोरोना वॉरियर्स यानी चिकित्सक डटे हुए हैं। फुल ड्रेस में नियमों का पालन करने के बावजूद कोई न कोई सदस्य कोरोना से संक्रमित हो रहा है। कोरोना गंभीर बीमारियों के रोगी व कम प्रतिरोधक क्षमता वाले मनुष्य पर ज्यादा घातक सिद्ध हो रहा है। सर्दी, जुकाम, खांसी, छींकें, बुखार के साथ-साथ सांस लेने में समस्या हो तो कोरोना का लक्षण माना जाता है। इनके अतिरिक्त कुछ लक्षण सर्दी, छीकें, जुकाम, नाक से पानी बहना, एलर्जी रोग व बुखार को वायरल फीवर मानते हैं। एलर्जी व वायरस फीवर सामान्य दवाओं से कंट्रोल हो जाता है। अब आगे इन लक्षणों वाले गंभीर मरीजों में कोरोनावायरस की जांच भी जुड़ गई है, जिससे आर्थिक बोझ बढ़ने की पूरी संभावना रहेगी।

ये काम करें तो बच सकते हैं
कोरोना का इलाज भविष्य में कब तक खोज किया जाएगा, यह कहना मुश्किल है। अगर हम कुछ परहेज करें, जीवन की स्वस्थ आदतें अपनाएं, स्वस्थ जीवन शैली के साथ चलें, तो ही बड़े नुकसान से बचा जा सकता है। यह भी वैज्ञानिकों, डॉक्टर्स व सरकार की बड़ी सफलता होगी। यह हमारा सौभाग्य है कि आज की परिस्थितियों में कोई भी मरीज मोबाइल फोन द्वारा डॉक्टर के साथ जुड़ा हुआ है। इससे गंभीर व साधारण बीमारी वाला गरीब व्यक्ति भी चिकित्सकीय परामर्श द्वारा स्वास्थ्य लाभ पा रहा है। यह भी बहुत बड़ा प्रयास है उनका जो घर पर रहते हुए निस्वार्थ प्रोफेशनल जिम्मेदारी निभा रहे हैं।

फिलहाल घर पर रहें, स्वस्थ रहें और मस्त रहें
मरीज व तीमारदारों को की भी ड्यूटी है कि नियमों का कड़ाई से पालन करें। रोग की गंभीरता को समझते हुए लक्षणों के आधार पर डॉक्टर के कहने पर कोरोनावायरस की जांच करवाएं। फिलहाल घर पर रहें, स्वस्थ रहें और मस्त रहें।

-डॉ. बीएस बघेल, गोल्ड मेडलिस्ट
वरिष्ठ सर्जन, नाक-कान-गला रोग विशेषज्ञ
कारगिल चौराहा के निकट, सिकंदरा, आगरा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *